Pulwama Attack: पाक PM इमरान खान ने भारत के आरोपों को किया खारिज, कहा- युद्ध थोपा तो जवाब देंगे



जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकवादी हमले (Pulwama Terrorist Attack) के संबंध में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी चुप्पी तोड़ी है. इमरान खान ने भारत के लगाए आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि हम पर बिना किसी सबूत आरोप लगाए गए हैं.

Pakistan PM Imran Khan’s statement on #Pulwama terrorist attack: My statement is for the Indian government. You (Indian govt) have blamed the Pakistan government without any evidence. (file pic) pic.twitter.com/yOVFFamT28
— ANI (@ANI) February 19, 2019

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर धमकी भरे अंदाज में कहा कि अगर आप (भारत) हम पर हमला करेंगे तो हम इसका जवाब देने में सोचेंगे नहीं. हम सभी जानते हैं कि जंग शुरू करना इंसानों के हाथ में है, लेकिन इसका अंजाम क्या होगा केवल ऊपरवाला जानता है. इमरान ने कहा कि भारत-पाकिस्तान के बीच जो भी मसला (मुद्दा) है उसे बातचीत से सुलझाया जाना चाहिए.

Pakistan PM Imran Khan: If you (Indian govt) thinks you will attack us and we will not think of retaliating, we will retaliate. We all know starting a war is in the hands of humans, where it will lead us only God knows. This issue should be solved through dialogue. pic.twitter.com/kbyvmAiJgk
— ANI (@ANI) February 19, 2019

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान को इससे क्या फायदा है? पाकिस्तान क्यों ऐसा करेगा इस स्टेज के ऊपर जब पाकिस्तान खुद स्थायित्व और स्थिरता की तरफ आगे बढ़ रहा है.

Pakistan PM Imran Khan’s statement on #Pulwama terrorist attack: Pakistan ko isse kya faayda hai? Kyu Pakistan karega iss stage ke upar jab Pakistan stability ki taraf ja raha hai? pic.twitter.com/Z1rdaIbTcJ
— ANI (@ANI) February 19, 2019

JeM के स्थानीय सदस्य ने CRPF के काफिले पर किया था आतंकी हमला

बता दें कि 14 फरवरी को दोपहर साढ़े तीन बजे के लगभग जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में NH-44 (नेशनल हाईवे) से गुजर रहे CRPF के काफिले (Convoy) पर आतंकवादी हमला हुआ था. इस आत्मघाती हमले में देश के चालीस बहादुर जवान शहीद हो गए थे और दर्जनों अन्य घायल हुए थे. बाद में पाकिस्तान से ऑपरेट होने वाले आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (JeM) ने इस कायराना हमले की जिम्मेदारी ली थी.

जैश के फिदायीन कश्मीरी आतंकी ने विस्फोटकों से भरी गाड़ी को CRPF जवानों को ले जा रहे बस से टकरा दिया था. इस हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे (फोटो: रॉयटर्स)

हालांकि सेना ने पुलवामा अटैक के चार दिन के अंदर इसका बदला ले लिया है. सोमवार को पुलवामा के पिंपलीना में हुए एनकाउंटर में जवानों ने इस हमले के मास्टरमाइंड जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के टॉप कमांडर कमांडर कामरान उर्फ गाजी राशिद समेत एक अन्य पाकिस्तानी आतंकी को मार गिराया था.

Source link



Leave a Reply