News18RisingIndia: पुलवामा आतंकी हमले पर बोले सदगुरु- भारत अपनी परंपरा के हिसाब से जवाब देना चाहिए



News18RisingIndia कार्यक्रम में सोमवार को गीतकार प्रसून जोशी के साथ सदगुरु और योगगुरु बाबा रामदेव मौजूद रहे. पुलवामा आतंकी हमले के बाद बाबा रामादेव ने बाजी मार ली जबकि शांति-प्रेमी सदगुरु ने 14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले के बाद युद्ध-विराम के खिलाफ आगाह किया.

इस सेशन में सदगुरु ने कहा कि यह देश खुद की तलाश में जुटे लोगों से भरा हुआ है. उन्होंने कहा कि सवाल पूछने को हमें बढ़ावा देना चाहिए. सदगुरु ने भारतीय आध्यात्मिकता की प्रकृति पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि भारत और भारतीयों को हमले के बारे में अपनी प्रतिक्रिया भी इसी प्रकार देनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि भारत द्वारा कोई भी प्रतिक्रिया शांति की अपनी परंपरा को ध्यान में रखकर देनी चाहिए. उन्होंने कहा कि भारत को कश्मीर समस्या सुलझाने के लिए अपनी राह पर ध्यान देना चाहिए.

सदगुरु ने कहा कि हम इसे आतंकी हमला बताकर खुद को तसल्ली दे सकते हैं, लेकिन ये पाकिस्तान का प्लान एजेंडा है कोई आतंकी हमला नहीं. ये सिर्फ एजेंडा ही नहीं वे ऐसा करने के लिए पूरे गुप्त तरीके से काम कर रहे हैं.

भारत-पाकिस्तान बंटवारे पर बोलते हुए सदगुरु ने कहा कि … बहुत पहले नहीं, हमने 1 मिलियन लाशें और 14 मिलियन लोगों को पलायन करते देखा था. जिन्होंने पलायन किया था वह अभी तक भी पूरे तरीके से स्थाई नहीं हुए हैं. दो पुश्तों ने इस बंटवारे का दर्द झेला है.

पुलवामा आतंकी हमले पर उन्होंने कहा कि वे (पाकिस्तान) वही कर रहे हैं जो वे मानते हैं. जाहिर है वे पर्याप्त रूप से पर्याप्त विश्वास करते हैं कि वे जो कर रहे हैं वह इसके लायक है और सही है. नहीं तो कोई भी खुद को नहीं मारेगा. इसलिए भारतीयों को ये तय करना होगा कि उनका एजेंडा क्या है और उसपर काम करना होगा.

Source link



Leave a Reply